Saturday , December 3 2022

Tag Archives: Gopal Das Neeraj

‘कवि-नीरज’ के मर जाने से, ‘शब्द-नीरज’ नही मरा करता है !

“छिप-छिप अश्रु बहाने वालों, मोती व्यर्थ लुटाने वालों ! ‘कवि-नीरज’ के मर जाने से, ‘शब्द-नीरज’ नही मरा करता है !!” मुझे ठीक-ठीक याद नही है, शायद वर्ष 2010 ही रहा होगा. उस समय मैं बोकारो में सेक्टर 5 के क्वार्टर नंबर 1025 में रहता था, अपने एक मित्र के साथ. …

Read More »