Saturday , December 3 2022

Tag Archives: Dream

अनंत आशाएं..

बड़ी रात हो गयी है दूर दूर शांत सा उम्मीद के उपहास सा घनघोर अन्धकार है     पर हृदय में कहीं इस दृश्य से परे अजब सी है खलबली प्रकाश ही प्रकाश है|     इस निशा की गोद में जहाँ चाँद भी दिखे नहीं वियोग हो समाज में और आस कोई है नहीं     फिर भी हर …

Read More »

तू गौर कर ..

दिशा तेरी तू कर ले तय रास्ता मिल ही जायेगा अभी नहीं मंज़िल दिखी तो गौर कर रुके बिना कदम बढ़ा अँधेरा है तो क्या हुआ तू गौर कर   ख़त्म न तलाश कर जो कुछ कहे मन तेरा तो गौर कर धुंधला धुंधला कुछ नज़र में आएगा जिस दिशा …

Read More »

And one day he woke up…

And one day he woke up, startled to find him in the midst of deep treacherous never Ending Ocean. He looked all around, no sign of life to be seen. High in the sky, dark stormy clouds were giving a terrifying look. He felt as if he was in abandon. …

Read More »